Proxy server kya Hai और प्रॉक्सी सर्वर के क्या क्या Benefits Hai in 2021

दोस्तों बहुत से लोग Proxy server kya Hai इसको लेकर बहुत ही परेशान होते है उनको पता ही नहीं होता है की Proxy server kya Hota और अगर आप Proxy server का Use करते है तो आपको क्या क्या Banifits और क्या क्या नुकसान हो सकते है।

तो अगर आपके मन में Proxy server को लेकर कोई भी Doubt है या कोई भी सवाल है तो आप इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ते रहिये

और मैं आपको विसवास दिलाता हूँ की इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने के बाद आपके Proxy server से जुड़े आपके सारे सवालो का जवाब आपको मिल जायेगा चाहे वो किसी भी तरह का हो क्योकि मैं इस पोस्ट मैं Proxy server को लेकर सारे सवालो का जवाब आपको आसान भाषा में आपको समझा दूंगा

तो चलिए अब शुरू करते है –

Proxy server kya Hai hai| What is a Proxy server In Hindi-

Proxy server kya Hai hai ये सबसे पहला सवाल होता है तो सबसे पहले हूँ इसके बारे में जान लेते है तो देखिये सबसे पहले हम इसको तोड़ लेते है

तो हमको दो शब्द मिलते है पहला है Proxy और दूसरा होता है Server तो मैं आपको समझाता हूँ Proxy कर मतलब होता है किसी की जगह पर काम करना या किसी के बदले पर काम करना और Server का मतलन होता है जो भी किसी चीज को Serve करता हो यानि की देता हो।

तो अगर हूँ इन दोनों चीजों को अगर मिलते है तो एक ऐसी चीज जो किसी और की जगह पर चीजों को देती हो उसे हूँ Proxy server kahate  hai पर यहाँ पर बात computer और Internet की हो रही है तो हूँ इसे इस तरह से समझ सकते है की एक एक ऐसा computer या Server जो server को जगह पर काम करता है उसे हम Proxy server Kahate Hai.

तो मैं मानता हूँ की अब आपको Proxy server kya Hai ये समझ में आ गया होगा तो अब आगे बढ़ते है ।

Proxy server kaam kaise karta hai| How Proxy server works In Hindi –

तो अब बायत कर लेते है की Proxy server kaam kaise karta hai तो इसको भी मैं आपको आसान भाषा और सरल शब्दो में समझने की कोशिश करता हूँ तो जब भी आप किसी भी वेबसाइट या साइट को आप अपने browser में Open करते है तो क्या होता है

सबसे पहले जैसे ही आप उस Website का URL अपने Browser में टाइप करते है तो जो Request होती है वो आपके Browser से उस सर्वर तक जाती है जिस सर्वर मैं उस वेबसाइट की इनफार्मेशन save होती है और फिर वो information आपके Browser में लोड होती है जो Normal प्रोसेस होती है वो ये होती है

पर अगर आप Proxy server का यूज़ करते है तो फिर Proxy server आपके और मैन सर्वर के बीच में mediator का काम करता है यानि की अगर अब आप किसी भी website को आप अपने Browser में Open करते है तो अब Request डायरेक्ट मैन सर्वर तक नहीं जाएगी

अब जो Request होगी वो पहले Proxy server तक जाएगी और फिर इसके बाद Proxy server से मैन सर्वर तक जाएगी और इसी तरह से जो जानकारी होगी वो भी पहले Proxy server में लोड होगी और इसके बाद में Proxy server से आपके Browser में Load होगी।

तो अब आपके मन में सवाल आ रहा होगा की जब हमारा काम ऐसे ही चल जाता है तो फिर हम Proxy server का यूज़ क्यों करते है तो इस पर मैं आपको ये बताना चाहता हूँ की बहुत सी जगह पर ऐसा काम आ जाता है की हमे Proxy server का यूज़ करना पद जाता है इस बारे में हम आगे विस्तार से बात करेंगे।

Proxy server का क्या क्या Uses है? (Use of Proxy Server in Hindi)-

तो अब बात कर लेते है की की Proxy server के १क्या क्या uses है हम अगर Proxy server का यूज़ करते है तो इससे हमें क्या क्या फायदे हो सकते है

तो Proxy server का यूज़ करने से हमे बहुत से फायदे होते है जिस बारे में हम एक एक करके बात करते है –

1-IP Addres को छिपाने के लिए-

तो Proxy server का सबसे जो बड़ा यूज़ है वो है की इसके यूज़ से आप अपने ip Address को छिपा लेते है जैसे की मैं आपको समजने की कोशिश करता हूँ जैसे की मैंने आपको पहले ही बताया था की जब आप किसी भी website को Open करते है तो जो Request होती है वो आपके Ip Address से direct सर्वर तक जाती है

पर अगर आप Proxy server का यूज़ करते है तो फिर ये आपके लिए एक mediator का काम करता है और Request जो होती है वो आपके Ip से न जाकर Proxy server के Ip से जाती है जिससे जो आपका Ip होता है वो छिप जाता है। और आपको जल्दी से कोई hack नहीं कर पता है ।

क्योकि जो भी Hacker अगर आपको Hack करेगा तो वो आपके Ip Address से ही Hack करता है।

इसे भी पढ़े:Starlink Internet Satalite Project Kya Hai? क्या अब भारत में इंटरनेट और भी सस्ता होगा(202)

2-Internet Speed बढाने के लिए-

Proxy server का जो अगला फायदा होता है वो होता है ये Apki Internet speed को बड़ा देता है वो कैसे बढ़ाता है इस बारे में मैं आपको समझाता हूँ जो जब भी आप किसी भी वेबसाइट को ओपन करते है तो जब Proxy server से file आपके Browser एम् लोड होती है

तो Proxy server उस फाइल की Copy अपनी Cache memory में Save कर लेता है तो जब भी अगली बार आप उस वेबसाइट को ओपन करते है तो फाइल बहुत ही तेजी के साथ आपके Browser में लोड हो जाती है और आपकी Internet Speed बढ़ जाती है।

3-Block Website को एक्सेस करने के लिए-

Proxy server का जो अगला फायदा होता है वो होता है की आप Proxy server की मदत से Block Website को आसानी से Open कर सकते है।

वो कैसे वो तो अपने बाउट सारी वेबसाइट को देखा होगा की वो किसी एरिया में बन होती है वहां के लोग उस वेबसाइट को ओपन नहीं कर सकते है।

तो जब आप Proxy server का यूज़ करते है तो जो request होती है वो आपके ip से न जाकर किसी दूसरे ip Address से जाती है तो वो website आप आसानी से ओपन कर सकते हो और उस website की information आप आसानी से ले सकते हो।

4-सिस्टम की Security बढाने के लिए-

किसी भी organization या किसी  भी कंपनी  के लिए अपने server hack होने और data loss होने खतरा हमेशा बना रहता है। इस मामले में proxy बहुत  हद तक कुछ benefit provide करता है। आप अपने प्रॉक्सी सर्वर को configure करके client और server के साथ हो रहे communication को encrypt कर सकते हैं जिससे कोई third party उसे read न कर सके। आप malicious websites को block भी कर सकते हैं।

और भी पढ़े:Web Cookies क्या होती है | What is cookies in hindi (202)

5-Security और Monitor करने  के लिए:

आप अपने ऑफिस में Proxy server का Use कर कर Proxy server की मदद से अपने employee द्वारा इन्टरनेट उपयोग पर नजर रख सकते हैं इसके अलावा Parents और Family अपने घर में इसे लगाकर यह पता लगा सकते हैं की उनके बच्चे कौन-कौन सी website को ओपन कर रहे है और किस किस वेबसाइट का यूज़ कर रहे है।

तो अगर आप Proxy server का यूज़ करते है तो आपको बहुत सरे और इस तरीके के Banifits हो सकते है।

Proxy server कितने प्रकार के होते हैं| Types of Proxy Server in Hindi-

तो अब बात कर लेते है Proxy server ke Prakar के बारे में तो Proxy server basically तीन प्रकार के होते है जिनके बारे में हम विस्तार से निचे बात करेंगे-

1-Forward Proxy- 

यह Proxy server client के request को target server में forward कर देता है जिससे दोनों के बीच communication हो सके। यहाँ पर client proxy sever को यह निर्देश देता है  की उसे कौन सा resource चाहिए और इस Request को Proxy server उस टारगेट Main सर्वर तक पहुँचा देता है जहाँ वह resource उपलब्ध होता है।

  1. Open Proxy: Open proxy भी एक प्रकार का forwarding proxy होता है जो की publicly उपलब्ध  होता है जिससे कोई भी internet User अपना Ip Address को  hide करके anonymous browsing कर सकता है।

यहाँ पर नीचे कुछ  Proxy server के कुछ प्रकार दिए गये हैं जिनके बारे में भी आपको विस्तार से जानना चाहिए –

    1. Anonymous Proxy: यह simply client के IP Address को छिपा देता है ताकि टारगेट Main सर्वर को client के origin के बारे में पता न चल सके लेकिन इससे target server को proxy की identiy मिल जाती है।
    2. Distorting Proxy: यह website को अपनी identity तो बताता है लेकिन client के लिए Fake IP address pass करता है।
    3. High Anonymity Proxy: इस प्रकार की Proxy  को track कर पाना बहुत मुश्किल होता है क्योंकि यह वेबसाइट को न तो अपनी identity देता है और न ही client की IP pass करता है और बार-बार IP Address change होता rahata है

2-Reverse Proxy- 

यह ऊपर दिए गये सभी proxies से उल्टा होता है यहाँ पर client को यह पता नही होता की वह proxy से communicate कर रहा है उसे लगता है की वह सीधे actual server से contect कर रहा है जबकि सारे request और response proxy से हो कर गुजरते हैं। इसका उपयोग बड़ी-बड़ी companies जैसे की Google आदि द्वारा अपने server की security improve करने, load को कम करने, और speed बढ़ाने के लिए किया जाता है।

Proxy server का Use कैसे करें? |How to use Proxy Server in Hindi-

तो अब तक हमने बहुत कुछ जान लिया है Proxy server के बारे में Proxy server kya Hai haiProxy server kaam kaise karta hai और Types of proxy server in Hindi तो अब बात कर लेते है की अगर आपको Proxy server का अगर यूज़ करना हो तो आप किस तरह से Proxy server का यूज़ कर सकते हो

क्योकि अब अपने सब कुछ जान लिया है तो अगर आपको इसका यूज़ करना है या नहीं ये आप decide कर सकते है तो अब आगे जानते है की आप किस तरीके से Proxy server का यूज़ कर सकते है।

और भी पढ़े :Best 7 तरीको se Quora se Paise kaise kamaye in 202

Web browser का उपयोग करके:

इस method में आप अपने ब्राउज़र का उपयोग करते हैं लेकिन यहाँ पर आपको किसी भी प्रॉक्सी सर्वर से कनेक्ट होने के लिए आपको सबसे पहले उसकी IP address और port number की जानकारी होनी चाहिए इसके लिए आप गूगल में सर्च कर सकते हैं।

IP और port मिलने के बाद आप अपने browser की setting में जाएँ और नीचे दिए गये तरीके से proxy setting को configure करें।

Proxy server का यूज़ हम बहुत तरीके से कर सकते है जैसे Anonymous browing के लिए आप अलग मेथड का यूज़ कर सकते है आप अलग अलग Browser के लिए आप Proxy server का यूज़ अलग अलग तरीके से कर सकते है

पर हममे से ज्यादातर लोग Google Crome Browser का यूज़ करते है तो मैं आपको बताऊंगा की Google Crome Browser में आप किस तरह से Proxy server का यूज़ कर सकते है तो इसके लिए आपको निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना है और काम करना है –

Google Chrome में Proxy server कैसे use करें|How to use proxy server in google crome browser in hindi-

सबसे पहले आप settings में जाएँ

“Advanced” पर क्लिक करें

नीचे स्क्रॉल करें और “System” वाले section में जाएँ

“Open proxy settings” पर click करें

“LAN Settings” के button को दबाएँ

“Use a proxy server for your LAN” के checkbox को enable करें

Address में proxy का IP address और port वाले बॉक्स में port number डालें

Save करके Apply करें

अब आप Google Chrome में anonymous browsing कर सकते हैं।

अंतिम विचार –

मैं आशा करता हूँ की आपको Proxy server kya Hai hai| What is Proxy server In Hindi ये पूरी तरह से समझ में आ गया होगा और आपके AProxy server kya Hai hai| What is Proxy server In Hindi इससे जुड़े सारे डाउट ख़त्म हो गए होंगे।

साथ ही साथ आपको आप आपको Proxy server ke kya kya banifits hai| What is the Benifits of Proxy server In hindi और  Proxy server kaam kaise karta hai और क्यों जरुरी  है ये भी समझ में आ गया होगा अगर अभी भी आपके Proxy server kya Hai hai से जुड़े कोई भी सवाल है तो आप मुझे Comment Box में पूछ सकते है ।

और अगर आप How to use proxy server in google crome browser in hindi इससे जुडी कोई भी सलाह या जानकारी देना चाहते है तो भी आप मुझे कमेंट बॉक्स में बता सकते है ।

और अगर आपको हमारा Proxy server kya Hai hai पसंद आया है तो आप इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ Facebook और Whatsapp पर share भी कर सकते है।

आपका हमारा आर्टिकल  proxy server use karne ke kya kya Banifits hai ? के बारे में  पढ़ने के लिए धन्यवाद।

इसे भी पढ़े :

1.फेसबुक की स्टोरी को कैसे डाउनलोड करे वो भी एक क्लिक में ।

2.एलन मस्क की न्यूरोलिंक तकनीक

3-Google Assistant Kya Hai और इसके क्या क्या फायदे है?

My name is Monit Kumar and I am an Engineer by Profession and Blogger and Affiliate Marketer By Passion. I Started Rockbuget for Providing quality and Genuine Knowledge about the Blogging, Affiliate marketing and Online Earning related Content.

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap